Wednesday, 28 March 2012

352_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

दुनियाँ के सब लोग मिलकर तुम्हारे शरीर
की सेवा में लग जाएँ फिर भी तुम्हारे स्व
में कुछ बढ़ौती नहीं होगी । तुम्हारा विरोध
में सारा विश्व उल्टा होकर टँग जाय फिर
भी तुम्हारे स्व में कोई कटौती नहीं होगी

Pujya Asharam Ji Bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...