Thursday, 15 March 2012

306_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

बड़े धनभागी हैं वे सतशिष्य जो तितिक्षाओं को सहने का बाद भी अपने सदगुरु के ज्ञान औ भारतीय संस्कृति के दिव्य कणों को दूर-दूर तक फैलाकर मानव-मन पर व्याप्त अंधकार को नष्ट करते रहते हैं। ऐसे सतशिष्यों को शास्त्रों में पृथ्वी पर के देव कहा जाता है।
Pujya Asharam Ji Bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...