Saturday, 21 April 2012

386_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

बीते हुए समय को याद न करना, भविष्य की चिन्ता न करना
और वत्र्तमान में प्राप्त सुख-दुःखादि में सम रहना ये जीवनमुक्त
पुरुष के लक्षण हैं

Pujya Asharam Ji Bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...