Saturday, 22 December 2012

982_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

जिसके जीवन में दिव्य विचार नहीं है, दिव्य चिन्तन नहीं है वह चिन्ता की खाई में गिरता है।
-Pujya Asharam Ji Bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...