Wednesday, 12 December 2012

964_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

 जहाँ प्रेम है, विश्रांति है वहाँ शांति का प्राकट्य होता है। जहाँ समाधि है वहाँ आनंद का प्राकट्य होता है।
-Pujya Asharam Ji Bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...