Friday, 21 December 2012

979_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

जब तक देहाभिमान की नालियों में पड़े रहोगे तब तक चिन्ताओं के बन्डल तुम्हारे सिर पर लदे रहेंगे।
-Pujya Asharam Ji Bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...