Wednesday, 10 October 2012

824_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

नित्य ध्यान, प्राणायाम, योगासन से अपनी सुषुप्त शक्तियों को जगाओ।दीन-हीन-कंगला जीवन बहुत हो चुका। अब उठो... कमर कसो। जैसा बनना है वैसा आज से और अभी से संकल्प करो....

-Pujya asharam ji bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...