Thursday, 1 December 2011

14_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

सदा प्रसन्नमुख रहो | मुख को कभी मलिन मत करो | निश्चय कर लो कि आपके लिये शोक ने इस जगत में जन्म नहीं लिया है | आनन्दस्वरूप में चिन्ता का स्थान ही कहाँ है ?
Pujya asharam ji bapu :-
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...