Friday, 30 December 2011

89_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

भोंय सुवाडुं भूखे मारूँ उपरथी मारूं मार ।
एटलुं करतां हरि भजे तो करी नाखुं निहाल ।।
जीवन में कुछ असुविधा आ जाती है तो भगवान से प्रार्थना करते हैं- 'यह दुःख दूर को दो प्रभु !' हम भगवान के नहीं सुविधा के भगत हैं। 
 Pujya asharam ji bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...