Tuesday, 22 November 2011



जो दूसरों का सहारा खोजता है, वह सत्यस्वरूप ईश्वर की सेवा नहीं कर सकता |
Pujya asaram ji bapu :-

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...