Monday, 26 November 2012

935_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

किसी के दुकान-मकान, धन-दौलत छीन लेना कोई बड़ा जुल्म नहीं है | उसके दिल को मत तोड़ना क्योंकि उस दिल में दिलबर खुद रहता है |
-Pujya Asharam Ji Bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...