Sunday, 20 May 2012

534_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

सिंह की गर्जना व नरसिंह की ललकार, तलवार की धार व साँप की
फुफकार, तपस्वी की धमकी व न्यायधीश की फटकार...इन सबमें
आपका ही प्रकाश चमक रहा है ।आप इनसे भयभीत क्यों होते हो ?

Pujya Asharam Ji Bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...