Monday, 14 May 2012

506_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

दूसरों की भलाई में तुम जितना ही अपने अहंकार को और स्वार्थ को भूलोगे उतना ही तुम्हारा वास्तविक हित अधिक होगा |
Pujya Asharam Ji Bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...