Thursday, 23 May 2013

1120_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU

अपने दोषों को खोजो।
जो अपने दोष देख सकता है,वह
कभी-न-कभी उन दोषों को
दूर करने के लिए भी
प्रयत्नशील होगा ही।
ऐसे मनुष्य की
उन्नति निश्चित है।
-Pujya Asharam Ji Bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...