Tuesday, 10 July 2012

664_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU


ओ मानव ! तू ही अपनी चेतना से सब वस्तुओं को आकर्षक बना देता है ।
अपनी प्यार भरी दृष्टि उन पर डालता है, तब तेरी ही चमक उन पर चढ़
जाती है औरःफिर तू ही उनके प्यार में फ़ँस जाता है ।

Pujya Asharam Ji Bapu
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...