Tuesday, 29 November 2016

1535 - व्याकुलता का साधन मे महत्त्व ( Pujya Asaram Bapu Ji )

 #asharamjibapu #bapu #bapuji #asaram #ashram #asaramji #sant #asharamji #asharam #Hinduism #Sureshanandji #narayansai #balsanskar #hindi #Suvaky #suvichar #Mantras #Meditation #vasanthariom #THOUGHTS #QUOTES #pyaresatguruji #Instagramupdate #Photoshop #Corel #digitalart #photomanip #fantasy
Pujya Asaram Bapu Ji  Hd Wallpaper

व्याकुलता का साधन मे महत्त्व ❘❘ Pujya Asaram Bapu Ji ❘❘

जिस प्रकार बिना प्राणका शरीर कितना ही सुन्दर क्यों न हो, बेकार होता है, उसी प्रकार
व्याकुलता रहित साधन कितना ही उत्तम क्यों न हो, बेकार हो जाता है।

- Pujya Sant Shri Asaram Bapu Ji

卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐卐

बोधायन ऋषि प्रणित – दरिद्रतानाशक प्रयोग  💵


२८ दिन ( ४ सप्ताह ) तक सफेद बछड़ेवाली सफेद गाय  🐮 के दूध की खीर 🍲 बनायें | 

खीर बनाते समय दूध को ज्यादा उबालना नहीं चाहिए | चावल पानी में पकायें, फिर दूध डालकर एक – दो उबाल दे दें | उस खीर का सूर्यनारायण को भोग लगायें | 

☀ सूर्यनारायण का स्मरण करें और खीर को देखते – देखते  एक हजार बार -   मंत्र का जप करे |


ॐकार मंत्र:, गायत्री छंद: , भगवान नारायण ऋषि:, अन्तर्यामी परमात्मा देवता, अन्तर्यामी प्रीत्यर्थे, परमात्मप्राप्ति अर्थे जपे विनियोग: | 

इससे ब्रह्मचर्य की रक्षा होगी, तेजस्विता बढ़ेगी तथा सात जन्मों की दरिद्रता दूर होकर सुख – सम्पदा की प्राप्ति होगी | 


स्त्रोत – ऋषिप्रसाद – फरवरी २०१६ से 📖 
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...