Sunday, 11 September 2016

1505_THOUGHTS AND QUOTES GIVEN BY PUJYA ASHARAM JI BAPU



भूल्या जभी रबनू तभी व्यापा रोग।

जब उस सत्य को भूले हैं, ईश्वरीय विधान को भूले हैं तभी जन्म-मरण के रोग, भय, शोक, दुःख चिन्ता आदि सब घेरे रहते हैं। अतः बार-बार मन को इन विचारों से भरकर, अन्तर्यामी को साक्षी समझकर प्रार्थना करते जाएँ, प्रेरणा लेते जाएँ और जीवन की शाम होने से पहले तदाकार हो जाएँ।

  -Pujya Sant Shri Asharam Ji Bapu

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...